Home Power Links Contact Us Hindi Site

अन्याक्षरी प्रतियोगिता का आयोजन

टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के कारपोरेट कार्यालय, ऋषिकेश में हिंदी अनुभाग (का.एवं प्रशा.) के सौजन्य से दिनांक 31.05.2014 को अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए अन्‍त्‍याक्षरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए प्रतिभागिता कर रहे अधिकारियों एवं कर्मचारियों के चार समूह ''समूह-क'', ''समूह-ख'', ''समूह-ग'', ''समूह-घ'' बनाएं गए थे। प्रतिभागियों को देश भक्‍ति के गीत, हिंदी कविता, गीत, दोहे, चौपाई, संस्‍कृत श्‍लोक का वाचन एवं गायन करने की छूट दी गई थी जबकि फिल्‍मी गीतों को प्रतियोगिता में गाने की अनुमति नहीं थी। सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करते हुए ''समूह-ख'' ने प्रथम स्‍थान प्राप्‍त किया।  ''समूह-क'' ने द्वितीय एवं ''समूह-ग'' तथा ''समूह-घ'' ने तृतीय पुरस्‍कार प्राप्‍त किया ।

प्रथम स्‍थान प्राप्‍त करने वाले ''समूह-ख'' में श्री एस.जी.गोस्‍वामी, वरि.प्रबंधक (वाणिज्‍यिक), श्री अमरेन्‍द्र कुमार विश्‍वकर्मा, उप प्रबंधक (कार्मिक), श्री बी.पी.डोभाल, वरि.अभियंता (मुख्‍य रिकार्ड कार्यालय), श्री शंशाक लाल, उप प्रबंधक, (का.-स्‍थापना) एवं श्रीमती शीला देवी, वरि.आशुलिपिक, ओएमएस सम्‍मिलित थे। द्वितीय पुरस्‍कार प्राप्‍त करने वाले ''समूह-क'' में श्री राघवेन्‍द्र कुमार श्रीवास्‍तव, वरि.अभि.(परिकल्‍प- विद्युत), श्री आर.डी.भद्री, उप प्रबंधक (विद्युत), श्री मोहन लाल नौटियाल, वरि.सहायक, (प्रशासन), सुश्री लज्‍जू चौहान, उप प्रबंधक, (वित्‍त एवं लेखा), श्रीमती पुष्‍पा नवल, वरि.चिकित्‍सा सहायक (औषधालय) एवं श्री डी.एस.रावत, वरि.जन संपर्क अधिकारी (केंद्रीय संचार) सम्‍मिलित थे। तृतीय पुरस्‍कार प्राप्‍त्‍ करने वाले ''समूह-ग'' में श्री देवेन्‍द्र वर्मा, अभियंता (विद्युत), श्री गौरव कुमार, वरि.जनसंपर्क अधिकारी (केंद्रीय संचार), श्रीमती रूचि हांडा, अवर अभियंता (ओएमएस), श्री रामपाल सिंह, सहायक (प्रशासन), श्रीमती अल्‍पना शर्मा, आशुलिपिक (प्रशासन) तथा ''समूह –घ'' में श्री जे.के.वार्ष्‍णेय, उप महाप्रबंधक (परि.) श्रीमती रश्‍मि बड़ौनी, वरि.अधिकारी(आई टी), श्रीमती सरला डबराल, मैटर्न (औषधालय), श्री आर.के.मीना, प्रबंधक (प्रशा.) एवं श्रीमती प्रभा रतूड़ी, चिकित्‍सा सहायक (औषधालय) सम्‍मिलित थे। इस प्रतियोगिता में 21 अधिकारियों/कर्मचारियों ने प्रतिभागिता की।

कार्यक्रम का संचालन वरि.प्रबंधक (हिंदी), श्री अशोक कुमार श्रीवास्‍तव ने किया। उन्‍होंने कार्यक्रम की रूपरेखा पर प्रकाश डालते कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम कराने का प्रमुख उद्देश्‍य स्‍वस्‍थ प्रतिस्‍पर्धात्‍मक मनोरंजन के जरिए अधिकारियों एवं कर्मचारियों के मध्‍य राजभाषा हिंदी का कार्यान्‍वयन सुनिश्‍चित करना है। कार्यक्रम की अध्‍यक्षता कर रहे टीएचडीसी इंडिया लि. के महाप्रबंधक (का.एवं प्रशा.), श्री एस.के.अग्रवाल ने सभी विजेता समूहों के प्रतिभागियों को अपने कर-कमलों द्वारा नगद राशि से पुरस्‍कृत किया । 

इससे पूर्व अपर महा प्रबंधक (का.- भर्ती एवं औ.सं. तथा प्रभारी हिंदी), श्री सी.मिन्‍ज ने कार्यक्रम की अध्‍यक्षता कर रहे महाप्रबंधक (का.एवं प्रशा.), श्री एस.के.अग्रवाल का पुष्‍प गुच्‍छ भेंट कर स्‍वागत किया । इस अवसर पर निर्णायक मंडल के सदस्‍य के रूप में श्री बंशीधर पोखरियाल, पूर्व उप प्रधानाचार्य, भरत मंदिर इंटर कॉलेज, श्री एस.एस.भंडारी, प्रधानाचार्य, ऋषिकेश पब्‍लिक स्‍कूल एवं डॉ आर.के.श्रीवास्‍तव, प्रधानाचार्य, टीएचडीसी हाईस्‍कूल, ऋषिकेश को आमंत्रित किया गया था। आंमत्रित निर्णायक मंडल के सभी सदस्‍यों का स्‍वागत महाप्रबंधक (का.एवं प्रशा.), श्री एस.के.अग्रवाल ने पुष्‍प गुच्‍छ भेंट कर किया।             

प्रतियोगिता का प्रांरभ निर्णायक मंडल के सदस्‍य श्री बंशीधर पोखरियाल ने ''शुरू करें अन्‍त्‍याक्षरी'' का गायन करके किया। इसके बाद प्रतिभागियों द्वारा प्रस्‍तुत की गई रचनाओं पर महाप्रबंधक (का.एवं प्रशा.), श्री एस.के.अग्रवाल, निर्णायक मंडल के सदस्‍यों एवं उपस्‍थित श्रोतागणों ने खूब तालियां बजाई एवं प्रतिभागियों की प्रंशसा की। महाप्रबंधक (का.एवं प्रशा.) ने अपने संबोधन में सभी विजेताओं को बधाइयां देते हुए इस प्रयास को निरंतर बनाए रखने का आहवान किया।

 
             
Site Designed & Developed by IT Department, THDC India Limited