टिहरी मुख्यालय में सतर्कता जागरूकता सप्ताह का आयोजन

टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड टिहरी में दिनांक 31-10-2016 से 05.11.2016 तक सतर्कता जागरूकता सप्ताह मनाया गया | इस अवसर पर टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के कार्मिकों द्वारा सतर्कता जागरूकता सप्ताह के मध्य विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिसमे बड़ी संख्या में कार्मिकों द्वारा प्रतिभाग किया गया | सतर्कता जागरूकता सप्ताह की शुरुआत शपथग्रहण समारोह से हुई, तत्पश्चात इस सप्ताह के मध्य निबंध, वाद-विवाद प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिसका मुख्य उद्देश्य देश को भ्रष्ट्राचार से मुक्त करना एवं अपने कार्यों में पारदर्शिता लाना है एवं समय की प्रतिबद्धता को देखते हुए अपने कार्यों को समय  पर करना है|

      दिनाकं 05-11-2016 को सतर्कता जागरूकता सप्ताह का समापन टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड  के अतिथि गृह के सभागार कक्ष में हुआ| समापन समारोह के अवसर पर अधिशासी निदेशक(टीसी) श्री पी०पी०एस० मान  ने संबोधित करते हुए कहा कि देश को आगे बढ़ाने में भ्रष्टाचार को जड़ से मिटाना होगा और यह तब ही संभव होगा जब हम अपने कार्यों को ईमानदारी और पारदर्शिता  के साथ समय पर पूरा करेंगे| उन्होंने यह भी कहा कि प्रत्येक कार्मिक का यह भी दायित्व है कि वह  भ्रष्टाचार मिटाने का प्रचार-प्रसार करे, जिससे प्रत्येक नागरिक इस जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान भ्रष्टाचार समाप्त करने हेतु दें | अधिशासी निदेशक(टीसी) ने प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ, स्थान प्राप्त करने वालों को पुरस्कृत किया|

      इस अवसर पर महाप्रबंधक स्टेज प्रथम ने उपस्थित कार्मिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हम अपने को अद्यतन करें| हमें गरीबी और अमीरी की खाई को ख़त्म करना है, भ्रष्टाचार को केवल पैसे से ही नहीं आँका जा सकता है| जिस व्यक्ति के पास जो शक्तियाँ हैं उसे उनका दुरूपयोग नहीं करना चाहिए, अपितु ईमानदारी से अपने कार्यों को करते हुए सही रूप में प्रयोग में लाना चाहिए, जिससे किसी भी तरह का पक्षपात न हो|

     

उन्होंने भ्रष्टाचार से मुक्त देशों का उदाहरण भी दिया जहाँ भ्रष्टाचार शुन्य है और कहा कि हमें उनका अनुसरण करना चाहिए| उन्होंने यह भी कहा कि भारत सरकार द्वारा भ्रष्टाचार उन्मूलन हेतु जो कदम उठाये जा रहे हैं हमें उनके दिशा निर्देशों, गतिविधियों का मज़बूती के साथ पालन करना चाहिए| महा प्रबंधक स्टेज प्रथम ने प्रतियोगिताओं के निर्णायक मंडल को भी पुरस्कृत किया |

 

अपर महाप्रबंधक(का० एवं प्र०) श्री सी० मिन्ज ने सभी कार्मिकों का आवाहन किया कि सप्ताह के मध्य में जो प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही हैं उसमे अधिक से अधिक कर्मचारी, अधिकारी प्रतिभाग करें | जिससे सतर्कता जागरूकता से सम्बन्धित जानकारी अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचे और भ्रष्टाचार उन्मूलन को बढ़ावा मिले, जिससे प्रत्येक व्यक्ति पारदर्शिता से कार्य करे|   

इस अवसर पर अपर महाप्रबंधक(नियोजन/यांत्रिक) श्री यू०के० ठाकुर,  अपर महाप्रबंधक(सी०एंडएम०एम०) श्री जे०एल० नारंग, अपर महाप्रबंधक इलेक्ट्रोमकेनिकल(पी०एस०पी०) श्री एस०एस०पंवार, उप महाप्रबंधक(आर०सी०एम०) श्री डी०एस० रावत, वरिष्ट प्रबंधक(सतर्कता) श्री आर०पी० रंगा, वरिष्ट प्रबंधक(आर०सी०एम०) श्री एम०सी० रमोला, वरिष्ट प्रबंधक(का० एवं प्र०) श्री सी०वी० दुबे, प्रबंधक(का० एवं प्र०) श्री एस०के० शर्मा, वरिष्ट जनसंपर्क अधिकारी श्री मनबीर सिंह नेगी, वरिष्ट कार्मिक अधिकारी श्री जे० पी० बिजल्वाण, श्री चन्द्रवीर सिंह नेगी, श्री नरेश, श्री सुरेश सहित बड़ी संख्या में कार्मिक उपस्थित थे|

 
             
Site Designed & Developed by IT Department, THDC, Rishikesh.