अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री आर०एस०टी० साई को भावभीनी विदाई

टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री आर०एस०टी० साई के 30-11-2016 को सेवानिवृत्ति होने के फलस्वरूप टिहरी कॉम्प्लेक्स द्वारा टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के भागीरथीपुरम स्थित अतिथिगृह परिसर में भावभीनी विदाई समारोह का आयोजन किया गया। इस विदाई समारोह में उपस्थित श्री आर०एस०टी० साई का सभी वरिष्ट अधिकारी एवं कर्मचारीगणों, युनियन, एसोसिएशन के प्रतिनिधियों द्वारा उनका गुलदस्ता एवं फूल-मालाओं को प्रदान कर स्वागत एवं अभिनन्दन किया गया।

 

सर्वप्रथम अधिशासी निदेशक(टीसी) श्री पी०पी०एस० मान ने स्वागत करते हुए अपने सम्बोधन में कहा कि निगम को नई सोच विजन एवं अनुशासन के साथ आगे बढ़ाना एक चुनौती थी, अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री साई साहब ने अपने कार्यकाल में अनेकानेक साहासिक निर्णय लेकर निगम को शीर्ष तक पहुचांया। इस दौरान निगम ने अनेकानेक उपलब्धियां हासिल की। कोटेश्वर परियोजना जिसका कार्य कई वर्षों से धीमी गति से चल रहा था। उन्होनें अपने कुशल नेतृत्व क्षमता एवं कार्यकुशलता से परियोजना को तीव्र गति प्रदान की जिसके फलस्वरूप समय पर विद्युत उत्पादन किया गया जिससे Revenue Generation के साथ THDC INDIA LTD. की विश्वसनीयता पॉवर सेक्टर के क्षेत्र में सर्वोत्तम शिखर तक पहुंची एवं अनेकानेक पुरूस्कारों से टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड को नवाजा गया। निगम को शेड्यूल A कम्पनी एवं मिनी रत्न का दर्जा प्राप्त हुआ एवं साथ ही ISO Certified कम्पनी का दर्जा भी प्राप्त हुआ। टिहरी बाँध परियोजना के द्वितीय चरण के तहत पी०एस०पी० जैसे महत्वपूर्ण कार्य को आगे बढ़ाने में राज्य सरकार एवं भारत सरकार द्वारा परियोजना के विभिन्न पहलुओं की स्वीकृति प्रदान कराई गई जिसके फलस्वरूप आज पी०एस०पी० का निर्माण कार्य प्रगति पर है साथ ही उन्होनें कहा कि साई साहब के कार्यकाल में टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड जल विद्युत परियोजनाओं के साथ ही थर्मल, पवन, सौर ऊर्जा जैसे क्षेत्रों में भी प्रवेश किया गया जो कि साई साहब के कुशल नेतृत्व मार्गदर्शन में निगम द्वारा प्राप्त की गई अहम उपलब्धि है। श्री पी०पी०एस० मान ने टीएचडीसी परिवार की तरफ से उनकी सेवानिवृत्ति पर उनके सुखद जीवन और दीघार्यू की कामना की, साथ ही कहा कि श्री साई साहब का सहयोग एवं मार्गदर्शन हमें समय-समय पर मिलता रहेगा।

 

निदेशक तकनीकी श्री डी०वी० सिंह साहब ने अपने संबोधन में कहा कि मुझे साई साहब के साथ बहुत ही नजदीकी से कार्य करने का अवसर प्राप्त हुआ जब से साई साहब ने टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड में अपनी सेवा प्रदान की तब से ही मेरा उनके साथ सीधा संवाद रहते हुये उनके दिशा-निर्देश मार्गदर्शन प्राप्त होते रहे। जिसके फलस्वरूप हमारे द्वारा उनके साथ कन्धे से कन्धा मिलाकर कार्य करने का शुभ अवसर प्राप्त हुआ। श्री साई साहब का जो हमारे निगम की तरक्की में योगदान रहा उसे भूल पाना असम्भव है। ऐसी विभूतियों को हर समय याद रखा जायेगा |

महाप्रबन्धक स्टेज प्रथम श्री मुहरमणि द्वारा विस्तृत रूप से उनके बारे में उनकी कार्यशैली, सकारात्मक सोच, दूरदर्शिता, सक्रियता, लग्नशीलता जैसे विभिन्न पहलुओं को विस्तृत रूप से बताया और उनको सेवानिवृत्ति की शुभकामना दी। सेवानिवृत्ति के विदाई समारोह के अवसर पर महाप्रबन्धक कोटेश्वर श्री पी०के० अग्रवाल, अपर महाप्रबन्धक(का० एवं प्र०) श्री सी० मिन्ज, अपर महाप्रबन्धक प्रभारी(पी०एस०पी०) श्री के०पी० सिंह ने अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक महोदय को  सेवानिवृत्त होने की शुभकामनायें दी एवं कहा कि साई साहब का जो योगदान इस निगम की प्रगति में रहा वह सदैव याद रहेगा। उन्होनें प्रत्येक दिर्ष्टिकोण से निगम को आगे पहुंचाने में भरपूर प्रयास किए जिसके कारण आज हमारे निगम की पहचान अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बनी है। इस अवसर पर विभिन्न युनियन ऐसोसिएसन के प्रतिनिधियों द्वारा सेवानिवृत्ति के फलस्वरूप विदाई समारोह की बेला में उपस्थित होने पर उनका हार्दिक स्वागत एवं आभार व्यक्त किया एवं विभिन्न प्रतिनिधियों ने उन्हें सेवानिवृत्ति की शुभकामनाओं के साथ उनकी दीर्घायू की कामना की।

 

समारोह के अंत में अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री साई साहब ने उपस्थित सभी कार्मिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि मेरे कार्यकाल में आपके द्वारा मुझे जो सहयोग निगम की प्रगति हेतु दिया गया उसके लिए मैं आपका आभारी हूं एवं धन्यवाद देता हूं। उन्होने कहा कि सभी कार्मिक निगम की प्रगति एवं देश की प्रगति में पारदर्शिता के साथ निर्भीक होकर कार्य करें, उन्होनें गीता के उस स्मरण को भी याद करते हुए कहा कि हम सभी को कर्म ही पूजा पर विश्वास करते हुए कार्य करना है जिससे कि सभी लोग अपनी कार्य कुशलता का परिचय देते हुए आगे बढ़ें, जिससे कि यह निगम दिन प्रति दिन तरक्की करे और हमारा देश एक महाशक्ति के रूप में आगे बढ़े। उन्होनें सभी कार्मिकों एवं निगम के उज्जवल भविष्य की कामना के साथ अपने सम्बोधन को विराम दिया। विदाई समारोह के अवसर पर बड़ी संख्या में टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।

 
             
Site Designed & Developed by IT Department, THDC, Rishikesh.