अध्‍यक्ष एवं प्रबन्‍ध निदेशक, टीएचडीसी ने किया सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लांट का उद्घाटन
ऋषिकेश : 31.05.2017-  टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल) के अध्‍यक्ष एवं प्रबन्‍ध निदेशक श्री डी.वी. सिंह द्वारा टीएचडीसी परिसर, ऋषिकेश में नवनिर्मित 1 एम.एल.डी. क्षमता के सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लांट का उद्घाटन 31.05.2017 को किया गया।

 

इस अवसर पर निदेशक (कार्मिक) श्री एस.के. विस्‍वास, कार्यपालक निदेशक (.एम.एस.) श्री एच.एल. अरोड़ा, महाप्रबन्‍धक (सेवाएं)  श्री एच.एल. भारज, महाप्रबन्‍धक (कार्मिक) श्री विजय गोयल, महाप्रबन्‍धक (वाणिज्‍यिक ) श्री अजय माथुर, महाप्रबन्‍धक (नियोजन) श्री वी.के. बडोनी एवं महाप्रबन्‍धक (वित्‍त) श्री जे. बेहरा सहित कॉरपोरेशन के अनेक अधिकारी भी उपस्‍थित रहे।

 

महाप्रबन्‍धक (सेवाएं) श्री एच.एल. भारज ने  बताया गया कि प्‍लांट का निर्माण सिक्‍वेंसवैच रिएक्‍टर की नवीनतम तकनीकी पर आधारित है। इस तकनीकी में लागत कम एवं ट्रीटमेंट क्‍वालिटी सबसे अच्‍छी है। सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लांट के द्वारा उपचार किये गये जल को टीएचडीसी कालोनी में बाग बगीचा एवं उद्यान आदि के प्रयोग में लाया जायेगा। सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लांट से उपचार के उपरांत प्राप्‍त अवशेष को टीएचडीसी कालोनी परिसर में सुरक्षित पर्यावरण हेतु हरी पट्टी विकसित करने हेतु प्रयोग किया जायेगा।

यह उल्‍लेखनीय है कि टिहरी व कोटेश्‍वर जल विद्युत परियोजनाओं तथा गुजरात के पाटन व द्वारिका में पवन ऊर्जा परियोजनाओं की कमीशनिंग के उपरांत टीएचडीसी की कुल संस्‍थापित क्षमता 1513 मेगावाट  हो गयी है। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड देश का प्रमुख विद्युत उत्‍पादक संस्‍थान होने के साथ ही एक मिनी-रत्‍न (कटेग्री-प्रथम) व शेड्यूल ‘ए’ दर्जा प्राप्‍त संस्‍थान है।

 
             
Site Designed & Developed by IT Department, THDC, Rishikesh.